NGT ने दिल्ली-एनसीआर में खराब होती वायु गुणवत्ता की स्थिति पर संज्ञान लिया

राजधानी दिल्ली और उसके आसपास के इलाकों में प्रदूषण ने जीना मुहाल कर दिया है. दिल्ली के अलावा नोएडा, गाजियाबाद और गुरुग्राम में प्रदूषण खतरनाक स्तर पर पहुंच गया है. दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली को प्रदूषण से बचाने के लिए ऑड ईवन लागू किया है. मतलब आज से 15 नवंबर तक सड़कों परआधी गाड़ियां ही चलेंगी.

राष्ट्रीय हरित अधिकरण (NGT) ने दिल्ली-एनसीआर में खराब होती वायु गुणवत्ता की स्थिति पर संज्ञान लिया है. एनजीटी ने दिल्ली के मुख्य सचिव, डीसीसी अध्यक्ष, सीबीसीपी के सदस्य सचिव और वन एवं पर्यावरण मंत्रालय के सचिव को सम्मन जारी कर उनसे कल सुबह यानी मंगलवार को साढ़े दस बजे पेश होने को कहा है.

सुप्रीम कोर्ट ने प्रदूषण के मुद्दे पर उत्तर प्रदेश, पंजाब और हरियाणा के मुख्य सचिव को तलब किया. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि पंजाब, हरियाणा, यूपी के मुख्य सचिव बुधवार को कोर्ट में पेश हों. साथ ही कहा कि राज्य सरकार, डीएम, तहसीलदार, पुलिस सबको आदेश देते हैं कि पराली जलने की एक भी घटना न होने दें. अगर ऐसा होगा तो चीफ सेक्रेटरी से लेकर ग्राम पंचायत तक, एक-एक अधिकारी का दोष माना जाएगा.

दिल्ली की केजरीवाल सरकार की तर्ज पर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ऑड-ईवन (सम-विषम) योजना लागू कर सकती है. आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और पर्यावरण मंत्री दारा सिंह चौहान के बीच प्रदूषण नियंत्रण के लिए कई अहम बिंदुओं पर चर्चा हुई. सूत्रों के मुताबिक, इस बैठक में ऑड-ईवन के कदमों पर भी चर्चा की गई.

दिल्ली में प्रदूषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने तीखी टिप्पणी की है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि दिल्ली हर साल घुट रही है. सभ्य देशों में ऐसा नहीं होता. प्रदूषण को लेकर राज्य सरकार और दिल्ली सरकार को कुछ करना चाहिए. एक दूसरे पर ठीकरा फोड़ना ठीक नहीं है.

दिल्ली सरकार में परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने बीजेपी के वरिष्ठ नेता विजय गोयल से मुलाकात की है. इस दौरान विजय गोयल और कैलाश गहलोत की ऑड-ईवन योजना को लेकर बहस भी हुई. विजय गोयल ने आरोप लगाया कि केजरीवाल सरकार को चुनावों से पहले ही ऑड ईवन योजना याद आती है. वह हर साल इस योजना को क्यों लागू नहीं करती?

बीजेपी के वरिष्ठ नेता विजय गोयल का दिल्ली पुलिस ने चार हजार रुपए का चालान काट दिया है. विजय गोयल ऑड-ईवन योजना का विरोध कर रहे थे. वह आज अपने घर से ऑड नंबर की गाड़ी से निकले थे. जबकि आज ईवन नंबर की कारों का दिन है.

विजय गोयल अपने घर से आज ऑड नंबर की कार से निकले. जबकि आज ईवन नंबर की कार का दिन है. गोयल ने पहले ही एलान कर दिया था कि वह दिल्ली में लागू ऑड-ईवन योजना का विरोध करेंगे.
विजय गोयल ने कहा है कि कल मैं प्रेस कॉन्फ्रेंस करके चौंकाने वाले खुलासे करूंगा. केजरीवाल ने दिल्ली में सिर्फ 50 लाख मास्क बांटे हैं. जबकि जनता दो करोड़ है. केजरीवाल विज्ञापन देकर अपनी कमियां छुपा रहे हैं. केजरीवाल खांसना बंद हो गए हैं. अब पूरी दिल्ली खांस रही है.

विजय गोयल ने कहा है कि ऑड-ईवन का पिछली बार भी कोई फायदा नहीं हुआ. सिसोदिया ने कहा है कि पराली से सिर्फ दो फीसदी प्रदूषण हुआ है. उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार ने सिर्फ विज्ञापन छापे हैं. कोई काम नहीं किया.

बीजेपी नेता विजय गोयल ने कहा है, ऑड-ईवन सिर्फ चुनावी ड्रामा है. केजरीवाल सरकार ने पिछले पांच सालों में प्रदूषण पर कोई काम नहीं किया है. ये मेरा चैलेंज है. उन्होंने कहा कि अगर प्रदूषण पराली से हो रहा है तो दिल्ली में ऑड-ईवन लागू करने की क्या जरूरत है. मुझे दुख है कि मैं इस योजना का विरोध कर रहा हूं.

मनोज तिवारी ने कहा है कि अपनी गलतियों को छिपाने के लिए केजरीवाल पड़ोसी राज्यों को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं. जिन राज्यों में पराली जलाई जाती है, वहां तो गैस चैंबर नहीं बना है.

दिल्ली के बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा है कि केजरीवाल के समय में जितना प्रदूषण फैला है उतना कभी नहीं फैला. केजरीवाल ने सिर्फ अपना चेहरा चमकाने के लिए जनता का पैसा खर्च किया है. आज सड़कों पर धूल है. उन्होंने कहा है कि केजरीवाल ने दिल्ली को गैस चैंबर बना दिया है. मोदी जी ने ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस बनाकर पहले ही काफी प्रदूषण कम कर दिया है.

सीएम केजरीवाल ने कहा कि हमने पिछले दिनों डेंगू को हराया है. अब हम प्रदूषण को हराएंगे. हम लोगों को जागरुक करने के लिए विज्ञापनों पर पैसा खर्च कर रहे हैं. हमने विज्ञापन के लिए जिनता बजट जारी किया था, उसमें अभी भी काफी पैसे बचे हुए हैं.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है, ''दिल्ली में धुएं की चादर छाई हुई है. सरकार लोगों की सेहत को लेकर बहुत चिंतित है. जो भी कदम हमारे बस में हैं हम वह उठा रहे हैं.'' उन्होंने कहा, ''पराली का प्रदूषण कम करना हमारे बस की बात नहीं है, लेकिन वाहनों से होने वाले प्रदूषण को हम रोक सकते हैं. इसलिए हमने ऑड-ईवन योजना शुरु की है. लोग इसका समर्थन कर रहे हैं.

लोकस सर्किल्स के सर्वे में दूसरा सवाल था कि पिछले एक हफ्ते में प्रदूषण का लोगों पर क्या असर हुआ. जवाब में 44 फीसदी लोगों ने कहा कि प्रदूषण का उनकी सेहत पर बुरा असर पड़ा है, लेकिन डॉक्टर या अस्पताल जाने की नौबत नहीं आई है. जबकि 29 फीसदी लोगों ने माना कि प्रदूषण की वजह से उन्हें डॉक्टर के पास जाना पड़ा. सर्वे में 13 फीसदी लोग ऐसे भी थे जिनके परिवार के किसी ना किसी सदस्य को पिछले एक हफ्ते में अस्पताल जाना पड़ा.

एक ऑनलाइन सर्वे में खुलासा हुआ है कि यहां रहने वाले चालीस फीसदी लोग दिल्ली-एनसीआर छोड़कर कहीं और रहना चाहते हैं. दिल्ली में जहरीली धुंध की वहज से लोग बीमार पड़ रहे हैं. बच्चे और बुजुर्गों का सांस लेने भी मुश्किल हो रहा है.

ऑड-ईवन योजना के तहत दिल्ली में सुबह पहला चालान कटा. ट्रैफिक पुलिस ने आईटीओ के पास एक ऑड नंबर की गाड़ी के मालिक का चालान काट दिया. गाड़ी चला रहे शख्स का कहना था कि मैं नोएडा में रहता हूं. कल रात दिल्ली कुछ काम से आया था.

एबीपी न्यूज़ से दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि मैं साइकिल से दफ्तर जाऊंगा. हम प्रदूषण रोकने के लिए दिल्ली में जो कुछ हो सकता है वह कर रहे हैं, लेकिन हम पराली का कुछ नहीं कर सकते. प्रदूषण के लिए पराली जिम्मेदार है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लोगों से अपील की है.
बैकग्राउंड

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली और उसके आसपास के इलाकों में प्रदूषण ने जीना मुहाल कर दिया है. दिल्ली के अलावा नोएडा, गाजियाबाद और गुरुग्राम में प्रदूषण खतरनाक स्तर पर पहुंच गया है. दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली को प्रदूषण से बचाने के लिए ऑड ईवन लागू किया है. मतलब आज से 15 नवंबर तक सड़कों परआधी गाड़ियां ही चलेंगी. सीएम केजरीवाल ने जनता से ऑड-ईवन के नियमों का पालन करने की अपील की है. वहीं,प्रदूषण को लेकर आज सुप्रीम कोर्ट में भी सुनवाई होगी. सुप्रीम कोर्ट अपनी तरफ से बनाई गई कमिटी ईपीसीए की रिपोर्ट पर विचार करेगा. ऑड-ईवन और प्रदूषण से जुड़ी अपडेट के लिए बने रहें एबीपी न्यूज़ के साथ.

सीएम अरविंद केजरीवाल ने आज ट्वीट किया है, ''प्रदूषण कम करने के लिए आज से ऑड-ईवन शुरू हो रहा है. अपने लिए, अपने बच्चों की सेहत के लिए और अपने परिवार की सांसों के लिए ऑड-ईवन का ज़रूर पालन करें. कार शेयर करें. इससे दोस्ती बढ़ेगी, रिश्ते बनेंगे, पेट्रोल बचेगा और प्रदूषण भी कम होगा.''

यह भी पढ़ें-

दिल्ली बनी गैस चैंबर: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन बोले- गाजर खाने से मिलेगी प्रदूषण से राहत

दिल्ली में आज से ऑड-ईवन: महिलाओं को मिलेगी छूट, नियम तोड़ने पर लगेगा ₹4000 का जुर्माना

दिल्ली-NCR में आज भी जहरीली है हवा, प्रदूषण का स्तर 700 के पार, अभी नहीं मिलेगी राहत.

महाराष्ट्र में जारी सियासी ड्रामे के बीच अमित शाह के मिलेंगे फडणवीस, शिवसेना राज्यपाल से करेगी मुलाकात